image_print

ज्योतिषाचार्य पं अनिल कुमार पाण्डेय

विज्ञान की अन्य विधाओं में भारतीय ज्योतिष शास्त्र का अपना विशेष स्थान है। हम अक्सर शुभ कार्यों के लिए शुभ मुहूर्त, शुभ विवाह के लिए सर्वोत्तम कुंडली मिलान आदि करते हैं। साथ ही हम इसकी स्वीकार्यता सुहृदय पाठकों के विवेक पर छोड़ते हैं। हमें प्रसन्नता है कि ज्योतिषाचार्य पं अनिल पाण्डेय जी ने ई-अभिव्यक्ति के प्रबुद्ध पाठकों के विशेष अनुरोध पर साप्ताहिक राशिफल प्रत्येक शनिवार को साझा करना स्वीकार किया है। इसके लिए हम सभी आपके हृदयतल से आभारी हैं। साथ ही हम अपने पाठकों से भी जानना चाहेंगे कि इस स्तम्भ के बारे में उनकी क्या राय है ? 

☆ ज्योतिष साहित्य ☆ शनिदेव का विभिन्न राशियों में  गोचर (सितंबर 2022 से मार्च 2023 तक) ☆ ज्योतिषाचार्य पं अनिल कुमार पाण्डेय ☆

शनि देव को न्याय का देवता माना जाता है । उनका मुख्य उत्तरदायित्व है सभी के प्रति न्याय करना। यह पश्चिम दिशा के स्वामी नपुंसक,वात-श्लेष्मिक प्रकृति, कृष्ण वर्ण और वायु तत्व है। शनि देव सप्तम स्थान में बली होते हैं । वक्री ग्रह या चंद्रमा के साथ में रहने से चेस्ट बली होते हैं । इनसे अंग्रेजी विद्या का विचार किया जाता है । रात में जन्म होने पर  मातृ और पितृ कारक होते हैं । शनि ग्रह शारीरिक बल, उदारता, विपत्ति, योगाभ्यास, प्रभुता, ऐश्वर्य, मोक्ष, ख्याति, नौकरी तथा मूर्छा आदि  का विचार किया जाता है।

माह सितंबर 2022 से मार्च 2023 तक अर्थात सितंबर 2022 से विक्रम संवत 2079 के अंत तक शनि का गोचर निम्नानुसार है।

वर्तमान में शनि मकर राशि में वक्री होकर गोचर कर रहे हैं । 22 अक्टूबर 2022 को 8:36 दिन से  मकर राशि में ही मार्गी हो जाएंगे । इसके उपरांत 17 जनवरी को दिन के 4:05 से कुंभ में राशि में प्रवेश करेंगे । 2 फरवरी 2023 को सायं काल 19:02   पर शनि पश्चिम दिशा में अस्त होंगे तथा 11 मार्च 2023 को प्रातः काल 5:40 पर पूर्व दिशा से इनका उदय होगें । इसके उपरांत मार्च 2023 पर्यंत शनि कुंभ राशि में ही रहेंगे ।

 22 अक्टूबर 2022 तक वक्री शनि का विभिन्न राशियों पर के जातकों पर प्रभाव –

मेष राशि

अगर आप कर्मचारी हैं तो कार्यालय में आपका टकराव होगा । शासकीय  कार्यालयों में आपके विभिन्न कार्य में बाधाएं आएंगी । कचहरी के कार्यों में आपको सफलता मिलेगी । जनता के बीच आपकी प्रतिष्ठा बढ़ सकती है । आपके जीवन साथी को भी कष्ट होगा।

वृष राशि

आपके भाग्य मैं बीच-बीच में  रुकावटें आएंगी । धन हानि हो सकती है । शत्रुओं की मात्रा बढ़ेगी  । बहनों से संबंध ठीक रहेगा ।

मिथुन राशि

दुर्घटनाएं हो सकती हैं । धन प्राप्ति में बहुत बाधाएं आएंगी कार्यालय में आप की स्थिति सामान्य रहेगी । आपके संतान को कष्ट होगा।

कर्क राशि

आपके जीवनसाथी को कष्ट होगा। उनके कमर और गर्दन में दर्द हो सकता है । जनता में आपके क्षवि खराब हो सकती है । भाग्य से आपको सामान्य मदद मिलेगी।

सिंह राशि

आपके शत्रुओं की संख्या में कमी आ सकती है। आपका अपनी बहन से झगड़ा हो सकता है । कचहरी के कार्यों में विजय मिल सकती है । शारीरिक स्वास्थ्य ठीक रहेगा।

कन्या राशि

आपकी संतान का आपको सहयोग प्राप्त नहीं होगा । संतान को कई तरह की परेशानियां आ सकती हैं । आपके जीवन साथी को कष्ट होगा । धन लाभ में कमी आएगी।

तुला राशि

जनता के बीच में आप की छवि में गिरावट आएगी । आपके कमर या गर्दन में दर्द होगा । स्प्डेंलाइट्स की शिकायत हो सकती है । अगर आप कर्मचारी अधिकारी हैं तो  अपनी वाणी पर कंट्रोल रखें ।

वृश्चिक राशि

आपका अपनी बहन से तकरार हो सकती है। भाग्य सामान्य रहेगा ।  आपकी संतान आपको विशेष सहयोग नहीं देगी । कचहरी के कार्यों में हार मिल सकती है।

धनु राशि

आपकी धन लाभ में कमी आएगी । कृपया स्त्रियों से या दूसरे धर्म के लोगों से सतर्क रहें।

मकर राशि

इस समय शनि आप के लग्न में  बैठा हुआ है । यह आपको शारीरिक पीड़ा देगा । आपके जीवन साथी को भी शारीरिक कष्ट हो सकता है । अगर आप अधिकारी या कर्मचारी हैं तो कार्यालय में आपको परेशानी आएगी  ।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के शरीर में कष्ट हो सकता है । कचहरी के कार्यों में असफलता मिलेगी । भाग्य कम साथ देगा ।  धन हानि हो सकती है । शत्रुओं से सतर्क रहें।

मीन राशि

धन निवेश में सावधानी बरतें । अन्यथा आपको धन हानि होगी । स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहें । अपने संतान से सहयोग की उम्मीद कम रखें । वाहन के चलाते समय सावधान रहें।

शनि के प्रकोप से बचने के लिए सभी को चाहिए कि वे शनिवार को शनि मंदिर में जाकर पूजन करें । शनिदेव को तेल चढ़ाएं । पीपल के पेड़ के नीचे दीपक प्रज्वलित कर पीपल की सात बार परिक्रमा करें।

आपसे अनुरोध है कि इस पोस्ट का उपयोग करें और हमें इस पोस्ट के बारे में बतायें।

मां शारदा से प्रार्थना है या आप सदैव स्वस्थ सुखी और संपन्न रहें।

राशि चिन्ह साभार – List Of Zodiac Signs In Marathi | बारा राशी नावे व चिन्हे (lovequotesking.com)

निवेदक:-

ज्योतिषाचार्य पं अनिल कुमार पाण्डेय

(प्रश्न कुंडली विशेषज्ञ और वास्तु शास्त्री)

सेवानिवृत्त मुख्य अभियंता, मध्यप्रदेश विद्युत् मंडल 

संपर्क – साकेत धाम कॉलोनी, मकरोनिया, सागर- 470004 मध्यप्रदेश 

मो – 8959594400

ईमेल – 

यूट्यूब चैनल >> आसरा ज्योतिष 

≈ संपादक – श्री हेमन्त बावनकर/सम्पादक मंडल (हिन्दी) – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’/श्री जय प्रकाश पाण्डेय  ≈

image_print
0 0 votes
Article Rating

Please share your Post !

Shares
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments