image_print

सूचना/Information 

(साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार)

डायनामिक संवाद TV के अभिनव प्रयोग ( महत्वपूर्ण  लिंक्स ) 

हम आपको डायनामिक संवाद TV के इस समाचार श्रृंखला के माध्यम से मित्र संस्थान के अभिनव प्रयोगों और उनके लिंक्स की जानकारी देते रहेंगे।

 

आप निम्न शीर्षकों पर क्लिक कर कार्यक्रमों का यूट्यूब के माध्यम से सीधा प्रसारण देख सकते हैं।

 

1. वीडियो लिंक >>>>>> कोरोना का रोना धोना बन्द करो – कवयित्री सुश्री गौरी मिश्रा, नैनीताल

कोरोना का रोना धोना बन्द करो

तुम अपना व्यवहार साफ़ स्वच्छन्द करो

भारत कहे करो नमस्ते दुनिया से

छूना गले लगाना अब प्रतिबन्ध करो।

वैश्विक महामारी कोरोना पर यह खूबसूरत आत्मीय सन्देश देती कविता रची है देश विदेश में भारतवर्ष की कीर्ति पताका लहराने वाली व्यस्ततम कवयित्री गौरी मिश्रा ने, जो कि प्रकृति के स्वर्ग यानी देवभूमि नैनीताल से ताल्लुक रखती हैं। गौरी जी  उर्दू शायरी की रिवायत से वाकिफ़ हैं इनकी बेबाकी ने अदब को एक नया मकाम दिया है। बेहद कम उम्र में गौरी के पास वो अंदाज़ है जो जितना मन की गहराई में उतरता है उतना ही मन के बन्द दरवाजों पर दस्तक भी देता है। हमारी बेहद अजीज़ गौरी जी उसी क्रम में आज डायनामिक संवाद टी वी के सुधि दर्शकों से रूबरू हो रही हैं, जिस क्रम में आपने अभी तक कल्पना शुक्ला (दिल्ली) प्रियंका शर्मा (दिल्ली) निशा सिंह नवल (लखनऊ) पूजा यक्ष (अयोध्या) वन्दना श्रीवास्तव वन्या (लखनऊ) रूचि चतुर्वेदी (आगरा) अनुराधा अनु (कोलकाता) तूलिका सेठ (गाज़ियाबाद ) डॉ मौसमी परिहार (भोपाल) और डॉ भावना शुक्ल(दिल्ली) और ऐसी ही स्वनाम धन्य अनेक कवयित्रियों को सुना।हमारे बेहद ख़ास अनुरोध पर

आज डायनामिक संवाद टी वी के दर्शकों के लिए गौरी जी यही कविता प्रस्तुत कर रहीं हैं। डायनामिक संवाद परिवार उनका हार्दिक अभिनन्दन करता है।।

 

2. वीडियो लिंक >>>>>> कवित का सफर – सुश्री रेनू शर्मा, जयपुर राजस्थान

जीवन के इस सागर में

कुछ अनबोले उपहार मिले

मिली अगर कुछ खुशियाँ तो

दुःख भी हमें हज़ार मिले।

जीवन की गहराई में मिलने वाली जानी अनजानी तहों को टटोलती हुई ये कविता है देश की एक युवा कवयित्री रेनू शर्मा की । जो कि मशहूर-ओ-मारूफ़ शायर  हसरत जयपुरी की गुलाबी नगरी जयपुर से हैं।  रेनू बेहद सरलता से गहरी बात कहने का माद्दा रखती हैं और इस फन में कामयाब भी हैं।देश भर की साहित्यिक पत्रिकाओं में रेणु शर्मा की कविताओं का प्रकाशन हो रहा है ।आपकी कविताओं में सामाजिक ताना-बाना है और जीवन का नया रंग है । डायनामिक संवाद टीवी का सौभाग्य है कि आज वह हमारे मंच पर हैं। आज डायनामिक संवाद टी वी के दर्शकों के लिए रेनू जी यही कविता प्रस्तुत कर रहीं हैं। ।

 

3. वीडियो लिंक >>>>>>  कविता “चिड़िया” – नन्ही युवा कवयित्री आरोही परिहार, भोपाल

चिड़िया रानी बड़ी सयानी

तुम हो पेड़ों की रानी

भोपाल की नन्ही युवा कवयित्री आरोही परिहार की यह बाल सुलभ कविता प्रकृति का सुंदर चित्रण करती हुई एक गहरा सन्देश देती है। कक्षा 5 वी की छात्रा आरोही, श्री बिपिन परिहार एवं डॉ मौसमी परिहार की होनहार सुपुत्री व मदर टेरेसा स्कूल भोपाल की छात्रा हैं।  इनके उज्ज्वल भबिष्य की कामना डायनामिक संवाद टीवी परिवार करता है। आज डायनामिक संवाद टी वी के दर्शकों के लिए आरोही  अपनी स्वरचित कविता प्रस्तुत कर रही हैं।

 

4. वीडियो लिंक >>>>>> “माँ” – सुश्री सीमा शाह, झाबुआ मध्यप्रदेश

रसोई में चूल्हे पर रोटियाँ सेकती मेरी माँ का

लाल लाल दमकता चेहरा

मुझे साहस,मेहनत और विश्वास देता है……..

 

माँ के स्नेह के प्रति अपने जज़्बातों की स्याही से रची गयी ये अद्भुत रचना है सीमा शाह (झाबुआ) की ।

निश्चित ही  *मां वह अलौकिक शब्द है ,जिसके स्मरण मात्र से रोम-रोम पुलकित हो उठता है ,हृदय में स्मृतियों का अनहद ज्वार स्वतःउमड़ पड़ता है और मां को तलाशती भीगी आंखें स्मृतियों के अथाह सागर में डूब जाती हैं।

डॉ सीमा  जी की इस रचना यात्रा  में उपलब्धियों के अनेक माइल स्टोन आते हैं।राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की अनेक पत्र पत्रिकाओं में विगत 15 वर्षों से रचनाओं का प्रकाशन ,आकाशवाणी से नियमित प्रसारण ,शोध आलेखों का प्रकाशन, राज्य संसाधन केंद्र इन्दोर व भोपाल के लिए साहित्य सृजन साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर अनेक सामाजिक व साहित्यिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित हो चुकी हैं। वर्तमान में आप शासकीय महाविद्यालय मेघनगर जिला झाबुआ में कार्यरत हैं। सीमा जी  अपनी सुप्रसिद्ध कविता “माँ”  लेकर आज डायनामिक संवाद टी वी के सुधि दर्शकों से रूबरू हो रही हैं।

 

5. वीडियो लिंक >>>>>> “एक सुमधुर आवाज” – ईशिता विश्वकर्मा

संस्कारधानी जबलपुर की एक होनहार बेटी जिसनेे देश के  क्षितिज पर संगीत के क्षेत्र में अपना नाम सुनहरे अक्षरों से  लिख दिया और सारे शहर को गौरवान्वित किया । हम बात कर रहे हैं जबलपुर की शान  इशिता विश्वकर्मा की। लता मंगेशकर जी को अपना आदर्श मानने वाली इशिता का मानना है कि यदि कला के प्रति सच्ची लगन ,मेहनत और समर्पण हो तो एक न एक दिन मुकाम हासिल हो ही  सकता है।डायनामिक संवाद टीवी का सौभाग्य है सारेगामापा की विजेता इशिता विश्वकर्मा आज हमसे रूबरू हैं। बेहद विनम्र और ज़मीन से जुडी हुई इशिता हमसे अपने वे अनुभव और ख़ास बातें शेयर कर रही हैं , जिनके बलबूते पर उन्होंने एक बेहद बड़े मंच पर जबलपुर का नाम रोशन किया।उल्लेखनीय है कि इशिता की मम्मी भी बेहद सुरीली गायिका हैं और  देश विदेश में अनेकों बार कार्यक्रम प्रस्तुत कर चुकी हैं।

इशिता आज डायनामिक संवाद टी वी के सुधि दर्शकों से रूबरू हो रही हैं।

 

6. वीडियो लिंक >>>>>> आग रहने दे मुझको न यूँ ख़ाक कर – सुश्री सुषमा शाह, हैदराबाद

आग रहने दे मुझको न यूँ ख़ाक कर

यादों के आईने को ज़रा साफ कर

कोई चिंगारी कब तक मचलती रहे

तू ज़रा सी हवा दे के

आबाद कर

आज के इस भीषण दौर में  पाषाण हृदय को पिघलाने के लिए काव्य की सरस धारा से सरल साधन कुछ भी नही है। शायरी  दिल से निकलकर ,लबों से होकर जब कागज पर उतरती है तो जीवित हो उठती है,और अपने कद्रदानों तक पहुंचकर महक उठती है।कुछ ऐसे ही फन की माहिर हैं हमारी आज की सुप्रसिद्ध कवयित्री सुषमा सिंह (हैदराबाद) से।जिनके खूबसूरत मुक्तक सुनकर आप झूम उठेंगे।

आपके अनेक काव्य संग्रह आशा (काव्य संग्रह), मेरा भी मत (साझा संग्रह), वतन के रखवाले (साझा संग्रह), बापू: कल, आज और  कल (साझा संग्रह), आ चुके है और आपको प्राप्त अनेकों साहित्य सम्मान आपकी बाकमाल प्रतिभा का परिचय दे रहे हैं। सुषमा जी आज अपने खूबसूरत मुक्तकों के साथ डायनामिक संवाद टी वी के सुधि दर्शकों से रूबरू हो रही हैं।

डायनामिक संवाद tv का एप्प आप Google Play Store से  सीधे अथवा निम्न लिंक पर क्लिक कर डाउन लोड कर सकते हैं –

डाउनलोड लिंक >>>>>>    डायनामिक संवाद tv  App

देश और दुनिया की  ऐसे ही बाकमाल  शायराओं/कवियों/कवयित्रियों की चुनिंदा रचनाओं का ये सिलसिला यूं ही जारी रहेगा। बस आप जुड़े रहिये हमसे। यदि आपने हमारा चैनल सबस्कराइब नही किया तो अभी कीजिये और मुसलसल लुत्फ़ उठाइये ऐसी ही बेहतरीन रचनाओ का।

निवेदक-डॉ हर्ष कुमार तिवारी, निदेशक डायनामिक संवाद टी वी

मो.8871985980(व्हाट्सएप्प)

जनसम्पर्क अधिकारी द्वारा प्रसारित दिनांक 28 मई 2020

❃ ❃  ❃ ❃  ❃ ❃  ❃ ❃

image_print
0 0 vote
Article Rating

Please share your Post !

0Shares
0
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments