image_print

सूचना/Information ☆ सम्पादकीय निवेदन – श्रीमती उज्ज्वला केळकर आणि श्री अमोल केळकर – अ भि नं द न !☆ सम्पादक मंडळ ई-अभिव्यक्ति (मराठी) ☆

सूचना/Information  (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ सम्पादकीय निवेदन ☆  श्रीमती उज्ज्वला केळकर श्री अमोल केळकर  अ भि नं द न श्री अमोल केळकर यांच्या "माझी टवाळखोरी" तसेच श्रीमती उज्ज्वला केळकर यांच्या "हिरव्या हास्याचा कोलाज" या पुस्तकांचे प्रकाशन श्री अरविंद मराठे यांच्या शुभहस्ते आणि श्री नितीन खाडिलकर यांच्या अध्यक्षतेखाली, शुक्रवार दिनांक २० मे रोजी सिटी हायस्कूल, सांगली येथे संध्याकाळी ४ वाजता होणार आहे. आपण सर्वांनी या सोहळ्यास उपस्थित राहून लेखकांना शुभेच्छा द्याव्यात व आनंद द्विगुणीत करावा ही विनंती 🙏 💐 ई-अभिव्यक्ती समुहातर्फे श्रीमती उज्ज्वला केळकर आणि श्री अमोल केळकर यांचे मनःपूर्वक अभिनंदन आणि शुभेच्छा 💐  संपादक मंडळ ई अभिव्यक्ती मराठी   ≈संपादक – श्री हेमन्त बावनकर/सम्पादक मंडळ (मराठी) – श्रीमती उज्ज्वला केळकर/श्री सुहास रघुनाथ पंडित /सौ. मंजुषा मुळे/सौ. गौरी गाडेकर≈...
Read More

सूचना/Information ☆ सम्पादकीय निवेदन – श्री.रविंद्र सोनावणी – अ भि नं द न !☆ सम्पादक मंडळ ई-अभिव्यक्ति (मराठी) ☆

सूचना/Information  (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ सम्पादकीय निवेदन ☆  श्री रविंद्र सोनावणी   अ भि नं द न भारतीय साहित्य व संस्कृती मंच, बीड यांचेतर्फे आयोजित मुक्तकाव्य लेखन स्पर्धेत आपल्या समुहातील ज्येष्ठ लेखक व कवी श्री.रविंद्र सोनावणी यांना प्रथम क्रमांक प्राप्त झाला आहे. 💐 ई-अभिव्यक्ती समुहातर्फे श्री.रविंद्र सोनावणी यांचे मनःपूर्वक अभिनंदन आणि शुभेच्छा 💐  संपादक मंडळ ई अभिव्यक्ती मराठी   ≈संपादक – श्री हेमन्त बावनकर/सम्पादक मंडळ (मराठी) – श्रीमती उज्ज्वला केळकर/श्री सुहास रघुनाथ पंडित /सौ. मंजुषा मुळे/सौ. गौरी गाडेकर≈...
Read More

सूचनाएँ/Information ☆ लघु पत्रिकाओं के महत्त्व व योगदान पर सम्मेलन – कमलेश भारतीय ☆

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆ (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ लघु पत्रिकाओं के महत्त्व व योगदान पर सम्मेलन - कमलेश भारतीय ☆  लघु पत्रिका सम्मेलन, दिनेशपुर (उत्तराखंड) अभी आया हूं दिनेशपुर से जो उत्तराखंड का एक छोटा सा गांव है। जहां न कोई बड़ा होटल है और न कोई गेस्ट हाउस लेकिन पलाश विश्वास का हौसला देखिए कि दो दिन का सम्मेलन रख दिया देश की लघुपत्रिकाओं के योगदान और उनकी भूमिका को लेकर। कितने ही रचनाकार /संपादक दूर दराज से, देश के कोने कोने से पहुंचे और जमकर चर्चा हुई दो दिन। जनता का साहित्य, जनता की संस्कृति और जनता का मीडिया यह विषय रहा चर्चा परिचर्चा के लिए। प्रसिद्ध रचनाकार मदन कश्यप ने बहुत बढ़िया बात कही -देशहित और जनहित में इतना विरोध क्यों है? बाजार और विचार के बीच खाई क्यों है? बाजार और विचार की लड़ाई बड़ी है और इन दोनों के बीच खाई भी बढ़ती जा रही है। विचारहीनता का संकट बढ़ता जा रहा है देश में। सत्य को समझने, पहचानने...
Read More

सूचना/Information ☆ प्यार और कुर्बानी के इलावा माँ के मसलों को भी याद करें  – वानप्रस्थ (वरिष्ठ नागरिकों की संस्था) का आयोजन ☆ श्री अजीत सिंह

सूचना/Information  (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) (श्री अजीत सिंह, पूर्व समाचार निदेशक, दूरदर्शन) ☆ प्यार और कुर्बानी के इलावा माँ के मसलों को भी याद करें  - वानप्रस्थ (वरिष्ठ नागरिकों की संस्था) का आयोजन ☆ हिसार। मई 9. मैं सीता नहीं बनूंगी, किसी को अपनी पवित्रता का प्रमाण पत्र नहीं दूंगी , आग पर चल कर..... मैं राधा नहीं बनूंगी, किसी की आंख की किरकिरी बन कर... मैं यशोधरा भी नहीं बनूंगी, इंतज़ार करती हुई, ज्ञान की खोज में  निकल गए किसी बुद्ध का.. मैं गांधारी भी नहीं बनूंगी, नेत्रहीन पति की साथी बनूंगी पर आंखों पर पट्टी बांध कर नहीं.. प्रो राज गर्ग ने यह कविता सुनाते हुए कहा कि आज की नारी बदल रही है, वह देवी रूप नहीं चाहती, केवल समानता और सम्मान चाहती है। विश्व मातृत्व दिवस पर रविवार की शाम वानप्रस्थ संस्था द्वारा आयोजित वेबिनार में एक तरफ जहां माँ के असीम प्यार और कुर्बानी को याद किया गया, वहीं मां के उन मसलों को भी उल्लेखित किया गया जिन्हें लेकर सन 1908 में एक अमेरिकी...
Read More

सूचना/Information ☆ साहित्य जगत में ग्रामीण क्षेत्र से उभरती प्रतिभा – श्रीमती योगिता चौरसिया ‘प्रेमा’ – अभिनंदन ☆

सूचना/Information  (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) साहित्य जगत में ग्रामीण क्षेत्र से उभरती प्रतिभा - श्रीमती योगिता चौरसिया 'प्रेमा' – अभिनंदन    श्रीमति योगिता चौरसिया ‘प्रेमा’, झिगिराघाट अंजनिया, मंडला, मध्यप्रदेश के बहुत ही छोटे से गाँव से हैं। आप स्व. विजय चौरसिया (पिता), श्रीमति रजनी देवी चौरसिया (माता) की सुपुत्री एवं श्री योगेश चौरसिया जी की अर्धांगिनी अपना व्यापार संभालते हुए सामाजिक व साहित्यिक सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहती है। आपने बहुत ही कम उम्र में कई मुकाम हासिल किए हैं। विगत दिनों आपने ‘भारत जानो’ पुस्तक पर राजस्थान से संबन्धित होते हुए दोहे व चौपाई से राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कविसम्मेलन द्वारा मंत्रमुग्ध कर दिया। हाल ही में दिल्ली में सम्मान समारोह में  हमारे देश के भारतरत्न साझा संकलन में डाँ. अब्दुल कलाम जी पर स्वरचित रचना जो गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में चयनित हुई है, नई दिल्ली में सम्मानित किया जाएगा। आपने कई साझा संकलन पर काम किया है। दो सौ से अधिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया गया है। जिसमे...
Read More

सूचना/Information ☆ सम्पादकीय निवेदन – सौ.पुष्पा नंदकुमार प्रभूदेसाई – अभिनंदन ☆ सम्पादक मंडळ ई-अभिव्यक्ति (मराठी) ☆

सूचना/Information  (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार)  सौ.पुष्पा नंदकुमार प्रभूदेसाई  – अभिनंदन  रूग्ण सेवा प्रकल्प तर्फे आयोजित केलेल्या निबंध स्पर्धेत आपल्या समुहातील ज्येष्ठ लेखिका सौ.पुष्पा नंदकुमार प्रभू देसाई यांनी द्वितीय क्रमांक प्राप्त केला आहे. हा निबंध आपल्या वाचनासाठी दोन भागात देत आहोत. 💐 ई- अभिव्यक्ती कडून त्यांचे मनःपूर्वक अभिनंदन.💐 संपादक मंडळ  ई-अभिव्यक्ती मराठी. ≈संपादक – श्री हेमन्त बावनकर/सम्पादक मंडळ (मराठी) – श्रीमती उज्ज्वला केळकर/श्री सुहास रघुनाथ पंडित /सौ. मंजुषा मुळे/सौ. गौरी गाडेकर≈...
Read More

सूचनाएँ/Information ☆ भारतीय स्टेट बैंक के सुप्रसिद्ध लेखक एवं कवियों का सम्मान समारोह, भोपाल ☆

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆ (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ भारतीय स्टेट बैंक द्वारा साहित्यकारों का सम्मान समारोह, भोपाल  ☆  भारतीय स्टेट बैंक जन जन की आकांक्षाओं का ट्रस्टी हैं। सामाजिक सेवा बैंकिंग के अन्तर्गत बैंक से सेवानिवृत्त ऐसे बैंक कर्मी जो बैंक सेवा के साथ साहित्य सेवा के प्रति भी समर्पित रहे हैं, ऐसे साहित्यकारों का सम्मान करने की स्टेट बैंक की परिकल्पना एक सराहनीय कदम है। ऐसे साहित्यकारों का एक भव्य सम्मान समारोह शनिवार दिनांक 23 अप्रेल 2022 को भारतीय स्टेट बैंक, स्थानीय प्रधान कार्यालय, भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। विदित हो कि इस सम्मान समारोह में सुप्रसिद्ध साहित्यकार राजेश जोशी (भोपाल), ब्रजेश कानूनगो (इंदौर), जय प्रकाश पाण्डेय  (जबलपुर), श्याम खापर्डे (भिलाई), सुरेश पटवा  (भोपाल), अरुण दनायक (भोपाल), शांति लाल जैन (उज्जैन), सुश्री अलकनंदा साने (इंदौर), आर एस माथुर, सतीश राठी (इंदौर), अर्पण कुमार, अजय बाजपेई (भोपाल), कुमार अंबुज (भोपाल), सुश्री द्रोपदी धनवानी (भोपाल), मधु कांत चतुर्वेदी, लक्ष्मी कांत लावने, गोकुल सोनी, दीपक पंडित, दीपक गिरकर, के टी बदलानी, टी एस खरबंदा,...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ साहित्यिक कार्य के लिए श्रीओमप्रकाश क्षत्रिय ‘प्रकाश’ सम्मानित ☆

सूचनाएँ/Information (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ साहित्यिक कार्य के लिए श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' सम्मानित ☆ रतनगढ़। श्री राम मंदिर में भगवन राम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर सोमवंशी क्षत्रिय समाज द्वारा साहित्यिक कार्य के लिए श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' को शाजापुर में एक भव्य सामाजिक कार्यक्रम में भारत भर से पधारे अतिथियों के सम्मुख सम्मानित किया गया। इस अवसर पर रमेश मनोहरा जावरा को भी शाल श्रीफल देकर कर सम्मानित किया गया है। स्मरण रहे कि श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय को आजादी के 75 वे अमृत महोत्सव पर समर्पित भारत कथा माला के 28 राज्य व 9 केंद्र शासित प्रदेशों की प्रकाशित पुस्तकों में '21 श्रेष्ठ बालमन की कहानियां (मध्यप्रदेश)' का संपादन कार्य कर कहानियों की दृष्टि से सर्वोत्कृष्ट संकलन प्रस्तुत किया गया हैं। इस संकलन में मध्यप्रदेश साहित्य अकादमी के निदेशक डॉ विकास दवे, देवपुत्र के संपादक श्री गोपाल महेश्वरी सहित मध्यप्रदेश के अनेक बाल साहित्यकारों की कहानियां  सम्मिलित की गई है। 💐 ई- अभिव्यक्ति परिवार की ओर से श्री ओमप्रकाश...
Read More

सूचनाएँ/Information ☆ आचार्य जगदीश चंद्र मिश्र  लघुकथा सम्मान-वर्ष 2022 – प्रविष्टियाँ आमंत्रित ☆ डॉ. ऋचा शर्मा ☆

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆ (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ डॉ. ऋचा शर्मा ☆ ☆ आचार्य जगदीश चंद्र मिश्र लघुकथा सम्मान - वर्ष 2022 - प्रविष्टियाँ आमंत्रित ☆  ☆ लघुकथा शोध केंद्र, अहमदनगर (महाराष्ट्र) का आयोजन ☆ लघुकथा शोध केंद्र, अहमदनगर (महाराष्ट्र) के प्रथम वार्षिक कार्यक्रम (मई 2022) के अवसर पर राष्ट्रीय स्तर पर  'आचार्य जगदीश चंद्र मिश्र  लघुकथा सम्मान' का आयोजन किया जा रहा है। इसमें प्रविष्टि भेजने के लिए नियम व शर्तें इस प्रकार हैं ---     प्रेषित लघुकथा मौलिक तथा अप्रकाशित, अप्रसारित हो। इसका प्रमाण पत्र लघुकथाकार द्वारा देना अनिवार्य है।      प्रेषित लघुकथा वर्ड फाइल में यूनीकोड मंगल फोंट अथवा कृतिदेव 10 फोंट में टाइप की हुई हो ।   वर्तनी की अशुद्धियां नहीं होनी चाहिए तथा व्याकरण चिह्नों का समुचित प्रयोग हो । एक लघुकथाकार एक लघुकथा भेजें। लघुकथा का शीर्षक, अपना पूरा नाम, डाकपता, फोन नंबर, ई-मेल आदि का स्पष्ट उल्लेख अलग फाइल में करें। लघुकथाएँ इस ई-मेल पर भेजें – richasharma1168@gmail.com व्हाट्स एप पर अथवा डाक/कूरियर से नहीं। रचना ओपन फाइल में भेजें,...
Read More

सूचनाएँ/Information ☆ श्रीमती वीनु जमुआर द्वारा लिखित पुस्तक ‘सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध’ लोकार्पित  ☆

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆ (साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समाचार) ☆ श्रीमती वीनु जमुआर द्वारा लिखित पुस्तक 'सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध' लोकार्पित  ☆  भारतीय नव वर्ष के अवसर पर दिनांक 2 अप्रैल को श्रीमती वीनु जमुआर द्वारा लिखित पुस्तक 'सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध' का ऑनलाइन लोकार्पण हुआ। यह कार्यक्रम क्षितिज प्रकाशन और इन्फोटेनमेंट के तत्वाधान में आयोजित किया गया था। संचालक-समालोचक के रूप में कार्यक्रम का आरम्भ करते हुए हिन्दी आंदोलन परिवार के अध्यक्ष श्री संजय भारद्वाज ने कहा कि ऑनलाइन पुस्तकों के जमाने में भी 'बिटवीन द लाइंस' पढ़ने के लिए मुद्रित पुस्तकें सदा प्रासंगिक रहेंगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती ऋता शुक्ल ने की । उन्होंने कहा कि रामत्व, बुद्धत्व हमारे रक्त में है। शब्द यज्ञ, कला यज्ञ आदि के माध्यम से हमें वाचन संस्कृति की ओर लौटना होगा। मुख्य अतिथि डॉ. सुदर्शन वशिष्ठ ने कहा कि लेखिका ने सरल, बोधगम्य भाषा में बुद्ध के चरित्र को सामने रखा है। सभी पीढ़ियाँ इसे पढ़ने का आनंद ले सकती हैं। डॉ रमेश गुप्त मिलन ने इस पुस्तक को साहित्यिक जगत में...
Read More
image_print