image_print

हिन्दी साहित्य- साहित्यिक कार्यक्रम – ☆ क्षितिज अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019, इंदौर ☆ – श्री दीपक गिरकर

श्री दीपक गिरकर  ☆ क्षितिज अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019, इंदौर☆ ☆ कोई भी कला संयम और समय के साथ ही विकसित होती है - सुकेश साहनी☆ ‘क्षितिज’ संस्था, इंदौर द्वारा द्वितीय ‘अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019’ का आयोजन दिनांक 24 नवम्बर 2019, रविवार को श्री मध्यभारत हिंदी साहित्य समिति, इन्दौर में किया गया। यह कार्यक्रम चार विभिन्न सत्रों में आयोजित हुआ। प्रथम उद्घाटन , लोकार्पण एवम सम्मान सत्र रहा। इस सत्र की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार, कला मर्मज्ञ श्री नर्मदा प्रसाद उपाध्याय ने की। मंच पर क्षितिज साहित्य संस्था के अध्यक्ष श्री सतीश राठी, श्री सूर्यकांत नागर, श्री सुकेश साहनी, श्री श्याम सुंदर अग्रवाल, श्री माधव नागदा एवम श्री कुणाल शर्मा उपस्थित थे। संस्था परिचय एवं अतिथियों के लिए स्वागत भाषण श्री सतीश राठी ने दिया। लघुकथा विधा को लेकर वर्ष 1983 से संस्था द्वारा किए गए कार्यों की उन्होंने जानकारी दी एवं संस्था के विभिन्न प्रकाशनों पर जानकारी देते हुए लघुकथा विधा के पिछले 35 वर्ष के इतिहास पर एक दृष्टि डाली। उन्होंने...
Read More

सूचनाएं /Information – ☆ हिंदी आंदोलन परिवार – रजतजयंती समारोह, पुणे ☆

 ☆ सूचनाएं /Information ☆  ☆ हिंदी आंदोलन परिवार - रजतजयंती समारोह के अंतर्गत *हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई और महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी* *हिंदी: घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा* शनि  दि. 14 दिसम्बर 2019 समय- प्रात: 10 बजे स्थान- लकाकी सभागृह, मराठा चेंबर ऑफ कॉमर्स, स्वारगेट कॉर्नर, पुणे   *पंजीकरण एवं जलपान* -  प्रातः 9:30 से 10:00 *उद्घाटन सत्र* -  प्रातः 10:00 बजे *उद्घाटनकर्ता- डॉ. सदानंद भोसले* (हिंदी विभागाध्यक्ष, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *अध्यक्ष*- *डॉ. सुशीला गुप्ता* (उपाध्यक्ष, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई)   *वक्तव्य*-  *श्री ज. गं. फगरे*   (संचालक, महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे) *श्री संजय भारद्वाज* (अध्यक्ष, हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे)   *संचालन- सौ.स्वरांगी साने* *प्रथम सत्र* 11.45 से 1.45 बजे तक   *अध्यक्ष- डॉ. करुणाशंकर उपाध्याय* (हिंदी विभागाध्यक्ष, मुंबई विश्वविद्यालय) *विशेष अतिथि- डॉ. दामोदर खडसे* (प्रसिद्ध साहित्यकार)   *वक्तव्य-* *डॉ. नीला बोर्वणकर*  ( पूर्व विभागाध्यक्ष, हिंदी विभाग, आबासाहेब गरवारे महाविद्यालय) *डॉ. शशिकला राय* (एसोसिएट प्रोफेसर, हिंदी विभाग, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव* सहायक महाप्रबंधक (हिंदी), बैंक ऑफ महाराष्ट्र *श्री महेश अग्रवाल* (ट्रस्टी एवं संरक्षक, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई)   *संचालन- डॉ. अनंत श्रीमाली*   *भोजनावकाश* -  अपराह्न 1.45 से 2.30 बजे *द्वितीय...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ सोन इंदर प्रतिष्ठान सम्मान ☆ – प्रस्तुति – श्रीमती समीक्षा तैलंग

सूचनाएँ/Information श्रीमती समीक्षा तैलंग    (हम प्रतिष्ठित व्यंग्यकार  श्रीमती समीक्षा तैलंग जी के ह्रदय से आभारी हैं जिन्होंने हमारे आग्रह  को स्वीकार कर  सोन इन्दर प्रतिष्ठान सम्मान कार्यक्रम  की विशेष जानकारी प्रेषित की है। )  ☆ सोन इंदर प्रतिष्ठान सम्मान ☆ 16 नवंबर को एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जाना हुआ। सावित्रीबाई फुले, पुणे विश्वविद्यालय में हुए इस कार्यक्रम में आ. बलराम प्रेमनारायण जी को सोनइंदर प्रतिष्ठान की ओर से साहित्य महासागर सम्मान से सम्मानित किया गया। बलराम जी का सत्कार करते हुए बाएं से खडसे जी, पवार जी, बलराम जी, ममता जैन जी, डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव जी, डॉ. सुनील देवधर जी आ. दामोदर खड़से जी से बातचीत, उन्हें सुनना और उन्हें अपनी पुस्तक भेंट करना भी सुखद रहा। आ. सुनील देवधर जिन्हें मैं दादा कहती हूं, उनसे लगभग 24 वर्षों बाद मिलना उतनी ही आत्मीयता और सुकून भरा था। कार्यक्रम संयोजन में श्री अशोक भांबुरे जी का विशेष योगदान रहा।  मेरे एक और फेसबुक मित्र जिनसे मैं पहली बार मिली डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव जी उनका संचालन लाजवाब...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ 16 वां बहुभाषी नाट्य महोत्सव – निर्णायक की कलम से – – ☆ श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी” 

श्रीमति हेमलता मिश्र “मानवी “ (सुप्रसिद्ध, ओजस्वी,वरिष्ठ साहित्यकार श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी”  जी  विगत ३७ वर्षों से साहित्य सेवायेँ प्रदान कर रहीं हैं एवं मंच संचालन, काव्य/नाट्य लेखन तथा आकाशवाणी  एवं दूरदर्शन में  सक्रिय हैं। आपकी रचनाएँ राष्ट्रीय स्तर पर पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित, कविता कहानी संग्रह निबंध संग्रह नाटक संग्रह प्रकाशित, तीन पुस्तकों का हिंदी में अनुवाद, दो पुस्तकों और एक ग्रंथ का संशोधन कार्य चल रहा है।  आज प्रस्तुत है 16 वें बहुभाषी नाट्य महोत्सव में निर्णायक के रूप श्रीमती  हेमलता मिश्रा जी के उदगार.)   ☆ निर्णायक की कलम से -श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी”  ☆   विदर्भ हिन्दी साहित्य सम्मेलन ,मोरभवन झांसीरानी चौक नागपुर और कला सागर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 16 वें बहुभाषी नाट्य महोत्सव में निर्णायक के रूप में पिछले छः दिनों के स्वर्गिक आनंद का अनुपम आस्वाद - - अवर्णनीय है पूरे पंद्रह नाटक 200 से अधिक कलाकार और प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े सुधि जनों के साथ बड़े ही जोश उत्साह और जिज्ञासा से पूरित  नाट्य महोत्सव का भव्य समापन समारोह...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय ‘प्रकाश’ जी को क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान ☆

सूचनाएँ/Information श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश” ☆ श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी को क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान ☆   सुप्रसिद्ध बालसाहित्यकार - श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी को साहित्य सृजन, हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं बालसहित्य उन्नयन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए त्रिदिवसीय क्रान्तिधरा मेरठ साहित्यिक महाकुम्भ 2019, मेरठ में अंतरराष्ट्रीय हास्य कवि एवं शायर डॉ एजाज पॉपुलर मेरठी, श्री सरण घई (कनाडा), श्री कपिल कुमार (बेल्जियम ), श्री रामदेव धुरंधर (मारीशस), श्रीमती जया वर्मा (ब्रिटेन), डॉ रमा शर्मा (जापान), डॉक्टर श्वेता दीप्ति (नेपाल), डॉ सच्चिदानंद मिश्र (नेपाल) आदि देश-विदेश के मंचस्थ अतिथि साहित्यकारों के द्वारा #क्रांतिधरा_अंतरराष्ट्रीय_साहित्य_साधक_सम्मान प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर देश विदेश से पधारे हुए 200 से अधिक शब्द शिल्पियों की उपस्थिति में यह गरिमामय सम्मान प्रदान किया गया। उल्लेखनीय है कि श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी का साहित्य सृजन, हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं बालसहित्य उन्नयन के क्षेत्र में  विशिष्ट योगदान है एवं आपकी बालकहानियाँ देश की प्रसिद्ध बाल पत्रिकाओं जैसे- नंदन, चम्पक, देवपुत्र, बाल किलकारी, हँसती...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ वर्तिका वार्षिकोत्सव ☆ – प्रस्तुति – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव‘विनम्र’ 

सूचनाएँ/Information श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’  (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के  ह्रदय से आभारी हैं जिन्होने  ई-अभिव्यक्ति के लिए वर्तिका वार्षिकोत्सव की विशेष प्रस्तुति प्रेषित दी  है। यह  ई-अभिव्यक्ति के  लिए गर्व का विषय है कि  ई-अभिव्यक्ति के साप्ताहिक स्तम्भ - इंद्रधनुष के स्तम्भकारश्री संतोष नेमा 'संतोष ' जी को इस कार्यक्रम में 'वर्तिका राष्ट्रीय साहित्य चेतना अलंकरण से अलंकृत किया गया। ) ई-अभिव्यक्ति द्वारा सभी साहित्य मनीषियों को उनकी महत्वपूर्ण उपलब्धि के लिए हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।  ☆ वर्तिका वार्षिकोत्सव ☆ वर्तिका, संस्कारधानी जबलपुर की एक पंजीकृत एवं सक्रिय साहित्यिक-सामाजिक-सांस्कृतिक संस्था है. संस्था प्रतिवर्ष अपने वार्षिकोत्सव में देश के विभिन्न अंचलो से अनेक रचना धर्मियो को आमंत्रित कर सम्मानित करती है. वर्तिका से सम्मानित विद्वानो में श्री चंद्रसेन विराट ,प्रो चित्र भूषण श्रीवास्तव विदग्ध, श्री हरेराम समीप, आचार्य भगवत दुबे,  डॉ त्रिभुवन नाथ शुक्ल, भोपाल, इंजी विवेक रंजन श्रीवास्तव, श्री संजीव सलिल, दिल्ली के श्री जाली अंकल, हैदराबाद के श्री विजय सत्पथी, श्री हेमन्त बावनकर, श्री अनवर इस्लाम, श्री कुंवर...
Read More
सूचना – हिन्दी साहित्य – ☆ ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक ☆ – (विशेषांक की रचनाएँ >>महत्वपूर्ण लिंक्स)

सूचना – हिन्दी साहित्य – ☆ ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक ☆ – (विशेषांक की रचनाएँ >>महत्वपूर्ण लिंक्स)

☆ ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक ☆   हम  2  अक्टूबर  2019 को  ई-अभिव्यक्ति  (www.e-abhivyakti.com ) द्वारा महात्मा गाँधी जी की 150वीं  जयंती पर प्रकाशित ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक  विशेषांक की रचनाओं के  महत्वपूर्ण लिंक्स उपलब्ध कर रहे हैं जिन्हें आप भविष्य में पढ़ सकते हैं।   ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक  में ई-अभिव्यक्ति की प्रस्तुति :- हिन्दी साहित्य – ई-अभिव्यक्ति संवाद – ☆ अतिथि संपादक की कलम से ……. महात्मा गांधी प्रसंग ☆ – श्री जय प्रकाश पाण्डेय - http://bit.ly/2oiSiae ई-अभिव्यक्ति: संवाद- 41 – ☆ ई-अभिव्यक्ति - गांधी स्मृति विशेषांक☆ – हेमन्त बावनकर - http://bit.ly/2n09wc7 हिन्दी साहित्य – आलेख – ☆ दक्षिण अफ्रीका : मिस्टर बैरिस्टर एम. के. गांधी से गांधी बनाने की ओर ☆ श्री मनोज मीता, गांधीवादी चिंतक एवं समाजसेवी - http://bit.ly/2nuCAsA हिन्दी साहित्य – आलेख – ☆ गांधी विचार की वर्तमान प्रासंगिकता ☆ श्री राकेश कुमार पालीवाल, महानिदेशक (आयकर) हैदराबाद (प्रसिद्ध गांधीवादी चिंतक  ) - http://bit.ly/2nER7le हिन्दी साहित्य – आलेख – ☆ गांधी जी के मुख्य सरोकार ☆ डॉ.  मुक्ता (राष्ट्रपति पुरस्कार से...
Read More

महत्वपूर्ण सूचना – ☆ महात्मा गांधी जी के150वीं जयंती पर विशेष – ☆ ई-अभिव्यक्ति – गांधी स्मृति विशेषांक ☆

 ☆ महत्वपूर्ण सूचना ☆  ☆ ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक ☆ महात्मा गांधी जी के 150वीं जयंती पर ई-अभिव्यक्ति की विशेष प्रस्तुति "ई-अभिव्यक्ति -गांधी स्मृति विशेषांक"   इस विशेषांक में आप पढ़ सकेंगे अंतरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर के वरिष्ठ एवं साहित्य की विभिन्न विधाओं के सशक्त हस्ताक्षरों की रचनाएँ, जिनमें प्रमुख हैं :- श्री राकेश कुमार पालीवाल, महानिदेशक (आयकर) हैदराबाद एवं प्रसिद्ध गांधीवादी चिंतक, डॉ मुक्ता, पूर्व निदेशक हरियाणा साहित्य अकादमी एवं राष्ट्रपति पुरस्कार से पुरस्कृत, वरिष्ठ साहित्यकार डॉ कुन्दन सिंह परिहार, डॉ सुरेश कान्त, श्री प्रेम जनमेजय, श्री संजीव निगम, श्रीमति सुसंस्कृति परिहार, श्री अरुण कुमार डनायक, सुश्री निशा नंदिनी भारतीय, श्री जय प्रकाश पाण्डेय, डॉ गुणशेखर शर्मा, श्री विनोद कुमार विक्की, श्री रमेश सैनी, श्री सदानंद आंबेकार, श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव 'विनम्र', श्रीमती समीक्षा तैलंग, श्री मनोज जैन "मित्र", श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय "प्रकाश", मराठी साहित्यकार कवीराज विजय यशवंत सातपुते, श्री सुजित कदम एवं अन्य सुप्रसिद्ध साहित्य की विभिन्न विधाओं के सशक्त हस्ताक्षर। आशा है आपको निश्चित ही इस अंक की प्रतीक्षा रहेगी ।  ...
Read More

सूचनाएं /Information – ☆ महाराष्ट्र हिंदी साहित्य अकादमी द्वारा “चार पीढ़ी के कवि” प्रकाशित ☆

 ☆ सूचनाएं /Information ☆  ☆ महाराष्ट्र हिंदी साहित्य अकादमी द्वारा "चार पीढ़ी के कवि" प्रकाशित ☆ सौ. सुजाता काळे हिंदी भाषा के विकास के लिए 'महाराष्ट्र हिंदी साहित्य अकादमी' एवं ' सेंट पीटर्स विद्यालय, पंचगनी ' की ओर से 28 सितम्बर, 2019 को एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया था।   प्रथम सत्र में  डाॅ जीतेंद्र पांडेय जी द्वारा  सम्पादित पुस्तक ' चार पीढ़ी के कवि' एवं उनकी लिखी हुई पुस्तक 'कविता की स्वाधीन चेतना' का लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया। द्वितीय सत्र में  विद्यार्थियों के लिए ' अपने प्रिय गीतकार से मिलिए ' कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। तृतीय सत्र  में भाषायी संगम कार्यक्रम  का आयोजन किया गया था ।   सौ. सुजाता काळे जी  की कवितायें  'चार पीढ़ी के कवि  में सम्मिलित की गई है इसके लिए उन्हें  ई-अभिव्यक्ति की ओर से  हार्दिक बधाई.    सौ. सुजाता काळे जी  मराठी एवं हिन्दी की काव्य एवं गद्य  विधा की सशक्त हस्ताक्षर हैं ।  वे महाराष्ट्र के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल कोहरे के आँचल – पंचगनी...
Read More

सूचनाएँ/Information – श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी द्वारा इतिहास रचित

सूचनाएं /Information   श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी  की कहानी "गांव का एक दिन" बनी सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली  श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश” सुप्रसिद्ध साहित्यकार एवं वरिष्ठ शिक्षक श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी द्वारा इतिहास रचित.  ऑनलाइन मंच स्टोरी वीवर के चार वर्ष पूर्ण होने पर आकलन किया गया कीओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' की कहानी की पुस्तक — गांव में एक दिन को सर्वाधिक 11,594 पाठकों द्वारा पढ़ी गई जो अपने आप में एक इतिहास है. यह साल भर की गतिविधि के आधार पर दी गई प्रगति की सूचना है। स्मरणीय है कि स्टोरीविवर प्रथम बुक्स का औनलाइन मंच है जहां पर विश्व की सर्वाधिक 200 भाषाओं में कहानी की चित्रकथा पुस्तकें प्रसारित होती है। ई-अभिव्यक्ति द्वारा श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी को इस उपलब्धि के लिए हार्दिक बधाई. ...
Read More
image_print