सूचनाएँ/Information – श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी द्वारा इतिहास रचित

सूचनाएं /Information   श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी  की कहानी "गांव का एक दिन" बनी सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली  श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश” सुप्रसिद्ध साहित्यकार एवं वरिष्ठ शिक्षक श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी द्वारा इतिहास रचित.  ऑनलाइन मंच स्टोरी वीवर के चार वर्ष पूर्ण होने पर आकलन किया गया कीओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' की कहानी की पुस्तक — गांव में एक दिन को सर्वाधिक 11,594 पाठकों द्वारा पढ़ी गई जो अपने आप में एक इतिहास है. यह साल भर की गतिविधि के आधार पर दी गई प्रगति की सूचना है। स्मरणीय है कि स्टोरीविवर प्रथम बुक्स का औनलाइन मंच है जहां पर विश्व की सर्वाधिक 200 भाषाओं में कहानी की चित्रकथा पुस्तकें प्रसारित होती है। ई-अभिव्यक्ति द्वारा श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”  जी को इस उपलब्धि के लिए हार्दिक बधाई. ...
Read More

सूचनाएं (Informations) – ☆ शिक्षक दिवस विशेषांक ☆ महत्वपूर्ण लिंक्स

☆ शिक्षक दिवस विशेषांक ☆   शिक्षक दिवस विशेषांक में आज प्रस्तुत है:- हिंदी साहित्य ☆ शिक्षक दिवस विशेष ☆ विमर्श – शिक्षक कल आज और कल ☆ ओमप्रकाश क्षत्रिय ‘प्रकाश’, श्रीमति समीक्षा तैलंग, श्रीमति उर्मिला उद्धवराव इंगळे एवं सुश्री स्मिता रविशंकर - http://bit.ly/32tShif मराठी साहित्य – ☆ शिक्षक दिवस विशेष ☆शिक्षक आजचा व कालचा ☆ – श्रीमति उर्मिला उद्धवराव इंगळे  - http://bit.ly/32tIuIZ English Literature – Teacher’s Day Special – The Last Day – Shri Suraj Kumar सिंह - http://bit.ly/32tskzp हिन्दी साहित्य – शिक्षक दिवस विशेष – ☆ वर्तमान शिक्षा का आधार प्राचीन शिक्षा व्यवस्था हो ☆ – डॉ ज्योत्सना सिंह राजावत - http://bit.ly/32vo4zm हिन्दी साहित्य – शिक्षक दिवस विशेष – ☆ इससे श्रेष्ठ शिक्षक नहीं देखे ☆ श्रीमति समीक्षा तैलंग - http://bit.ly/32rqiji हिन्दी साहित्य – शिक्षक दिवस विशेष – ☆ पाठशाला के आँगन में ☆ – श्री मच्छिंद्र बापू भिसे - http://bit.ly/2HMlVrf हिन्दी साहित्य – शिक्षक दिवस विशेष – कविता – ☆ शिक्षक के अधिकार व कर्तव्य ☆ – सुश्री मालती...
Read More

सूचना – हिन्दी साहित्य – ☆ परसाई स्मृति अंक ☆ – (विशेषांक की रचनाएँ >>महत्वपूर्ण लिंक्स)

 परसाई स्मृति अंक  हम 22 अगस्त 2019 को www.e-abhivyakti.com द्वारा स्व. परसाई जी  के जन्मदिवस पर प्रकाशित विशेषांक की रचनाओं के  महत्वपूर्ण लिंक्स उपलब्ध कर रहे हैं जिन्हें आप भविष्य में पढ़ सकते हैं।   परसाई स्मृति अंक में e-abhivyakti  की प्रस्तुति :-   हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक – संस्मरण ☆ पारदर्शी परसाई ☆ – डॉ.राजकुमार “सुमित्र” ☆ >> – http://bit.ly/30jWqop हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक ☆ अतिथि संपादक की कलम से ……. परसाई प्रसंग ☆ – श्री जय प्रकाश पाण्डेय ☆ >> –http://bit.ly/30sNg9a ई-अभिव्यक्ति: संवाद- 38 – हेमन्त बावनकर ☆ >> – http://bit.ly/30priE3 हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक – आलेख ☆ इस तरह गुजरा जन्मदिन ☆ – स्व. हरिशंकर परसाई ☆ >> –http://bit.ly/2Zty5Q1 हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक – संस्मरण ☆ परसाई जी – अमिट स्मृति ☆ – आचार्य भागवत दुबे ☆ >> – http://bit.ly/2ZiwNHn हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक – आलेख ☆ परसाई जी – एक आम आदमी और खास लेखक ☆ – श्री हिमांशु राय ☆ >> – http://bit.ly/30qG39u हिन्दी साहित्य – परसाई स्मृति अंक...
Read More

सूचना – वर्जिन साहित्यपीठ: लघुकथा मंजूषा – 4 हेतु लघुकथाएं आमंत्रित

वर्जिन साहित्यपीठ: लघुकथा मंजूषा - 4 हेतु लघुकथाएं आमंत्रित   (पुस्तक पेपरबैक और ईबुक, दोनों रूपों में प्रकाशित की जाएगी।) रॉयल्टी: 50% लेखकगण + 30% संपादन मंडल + 20% साहित्यपीठ (पहली 10 प्रति की बिक्री साहित्यपीठ के पास रहेगी)। रॉयल्टी 11वीं प्रति की बिक्री से प्रारंभ होगी। पारदर्शिता हेतु गूगल, पोथी और अमेज़न की सेल रिपोर्ट यहीं प्रति माह के प्रथम सप्ताह में शेयर की जाएगी। नमस्कार मित्रों। सार्थक लेखन हेतु सभी को हार्दिक शुभकामनाएं। लघुकथा मंजूषा  - 1, 2 एवं 3 की सफलता के पश्चात वर्जिन साहित्यपीठ लघुकथाकारों  से लघुकथा मंजूषा - 4 हेतु लघुकथाएं आमंत्रित करता है। आप अपनी प्रकाशित/अप्रकाशित 2 बेहतरीन लघुकथाएं virginsahityapeeth@gmail.com पर भेज दें।  सब्जेक्ट में "लघुकथा मंजूषा - 4, 2019 हेतु" अवश्य लिखें। प्लेटफॉर्म: ईबुक अमेज़न, गूगल प्ले स्टोर, और गूगल बुक्स के साथ सभी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी में उपलब्ध होगी जबकि पेपरबैक पोथी की वेबसाइट से अथवा हमसे मँगवा सकेंगे। समय सीमा: लघुकथाएं भेजने की अंतिम तिथि है - 15 अगस्त, 2019।  31 अगस्त, 2019 तक संकलन प्रकाशित कर...
Read More

सूचनाएँ/Information – डायनामिक संवाद टी वी यूट्यूब चैनल) के लोगो  की लांचिंग

☆ सूचना ☆     ☆  डायनामिक संवाद टी वी(यूट्यूब चैनल) के लोगो  की लांचिंग  ☆   आज  दिनांक 7 जुलाई 2019 को जबलपुर शहर की साहित्यिक ,सामाजिक चेतना का  सूत्रपात  करने डायनामिक संवाद टी वी के लोगो की  लांचिग सुप्रसिद्ध साहित्य शिरोमणी  डॉ राजकुमार तिवारी  सुमित्र, जी के द्वारा  शरद चन्द्र  उपाध्याय , पंकज स्वामी,डॉ अरुण  दवे ,डॉ ललित पाण्डेय    वरिष्ठ पत्रकार राकेश मिश्र ,डॉ प्रवीण मिश्र ,राकेश श्रीवास,,राजेन्द्र तिवारी , आराध्या तिवारी प्रियम, मेहेर  प्रकाश उपाध्याय,व् अन्य गणमान्य अतिथियों की  उपस्थिति में आज सुपर मार्किट कॉफ़ी हाउस,जबलपुर  में  सम्पन्न हुई। संस्काधानी नाम से  सुशोभित गोंड राजाओं की सशक्त कर्मभूमि के साहित्य,संगीत, संस्कृति  के क्षेत्र में  विश्वपटल पर अपने हस्ताक्षर से शहर जबलपुर की कीर्ति गाथा लिखने वाले  उदीयमान साधकों व् साहित्य शिल्पियों की  महिमा को सुनहरे चित्रपट पर उकेरने के उद्देश्य से एवम् विभिन्न समस्याओं को उनके  समाधान तक पहुचाने हेतु   इस  यूट्यूब चैनल को प्रस्तुत किया   जा रहा है। इस अवसर पर चैनल डायरेक्टर डॉ हर्ष तिवारी जी द्वारा चैनल के  मालिक सुमित्र जी...
Read More

सूचना / INFORMATION (मराठी) ✒ ☆ मराठबोली पुणे,आणि अनुरव साहित्य कला क्रीडा अकादमी,पुणे आयोजित राज्यस्तरीय निबंध स्पर्धा ☆

☆ सूचना ☆   ☆ ✒मराठबोली पुणे,आणि अनुरव साहित्य कला क्रीडा अकादमी,पुणे आयोजित राज्यस्तरीय निबंध स्पर्धा ✒ ☆   *विषय* १) वाढणारी जनसंख्या अन घटणारी माणुसकी:एक चिंतन २) धर्माचे राजकारण की राजकारणाचा धर्म ३) मोबाईल :मनोरंजन की व्यसन ४) वृद्धाश्रम: गरज की अपरिहार्यता   *नियम* ? वरील पैकी कोणत्याही एका विषयावर लिहिणे ? एक स्पर्धक एकाच विषयावर लिहू शकतो ? शब्दमर्यादा *700* शब्द ? अंतिम मुदत *20 जुलै, २०१९* ? परीक्षकांचा निर्णय अंतिम राहील ?  *प्रथम, द्वितीय, तृतीय व तीन उत्तेजनार्थ विजेते काढण्यात येतील.* ?  *निकाल २७जुलै, 2019* च्या होणाऱ्या कार्यक्रमात जाहीर करून विजेत्यांना मान्यवरांच्या हस्ते *सन्मानचिन्ह, सन्मानपत्र,व उपयुक्त भेटवस्तू दिली जाईल* ?  *सहभागी स्पर्धकांना प्रमाणपत्र देण्यात येईल* ? आपला निबंध खालील पत्यावर 20 जुलै, २०१९पर्यत पोहचेल अशा बेताने पाठवावा.   *पत्ता* अनुरव बंगला, वर्षानंद सोसायटी, प्लॉट नं३९, संतोष हॉल लेन, आनंदनगर, पुणे ५१   ?अधिक माहितीसाठी संपर्क 9284817132, 9325509450, 9225794658...
Read More

सूचना / Information – ☆ सुश्री मालती मिश्रा ‘मयन्ती’ जी को पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी, शिलांग द्वारा ‘डॉ. महाराज कृष्ण जैन स्मृति सम्मान’ ☆

प्रख्यात साहित्यकार सुश्री मालती मिश्रा 'मयन्ती' जी को पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी, शिलांग द्वारा 'डॉ. महाराज कृष्ण जैन स्मृति सम्मान' (यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि e-abhivyakti  से सम्बद्ध प्रख्यात साहित्यकार सुश्री मालती मिश्रा 'मयन्ती' जी को पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी शिलांग द्वारा 'डॉ. महाराज कृष्ण जैन स्मृति सम्मान' से सम्मानित किया गया। हमारे विशेष अनुरोध पर 23वें त्रिदिवसीय राष्ट्रीय हिन्दी विकास सम्मेलन' के अविस्मरणीय क्षणों को हमारे पाठकों से साझा करने हेतु उनकी रिपोर्ट।) ☆ पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी शिलांग द्वारा  23वें त्रिदिवसीय 'राष्ट्रीय हिन्दी विकास सम्मेलन' (24-26 मई 2019) ☆ विगत 24-26 मई 2019 को 'पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी शिलांग' द्वारा आयोजित साहित्यिक सम्मेलन में हिस्सा लेने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। दिल्ली से लगभग 2224 किलोमीटर दूर शिलांग जाकर इस सम्मेलन में हिस्सा लेना मेरे लिए बेहद रोचक, ज्ञानवर्धक व यादगार रहा। इस भव्य समारोह में  'डॉ० महाराज कृष्ण जैन स्मृति सम्मान' से सम्मानित होना मेरे जीवन का एक अविस्मरणीय क्षण था। हिन्दी भाषा के विकास की दिशा में अग्रसर 'पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी शिलांग' द्वारा...
Read More

सूचना / Information (मराठी) – ☆ काव्य स्पंदन!!! – काव्यस्पंदनी माझी कविता ☆

सूचना - काव्य स्पंदन!!! - काव्यस्पंदनी माझी कविता काव्यस्पंदन  राज्यस्तरीय परीवार  यांच्या वतीने राज्यव्यापी , उल्लेखनीय रचनांचा   *प्रातिनिधिक काव्य संग्रह* प्रकाशित केला जाणार आहे.  विविध वाॅटस अप समुहात दैनंदिन लेखन करणार्‍या  प्रत्येक सदस्याने अशा उपक्रमात सहभागी होऊन आपला लेखनकला व्यासंग  प्रकाशित स्वरूपात संग्रही करीत आहोत. अशा कवितांचा संग्रह लोकाभिमुख व्हावा अशा उद्देशाने या प्रातिनिधीक कविता संग्रहाची निर्मिती करीत आहोत. ज्यांना सहभागी व्हायचे आहे त्यांनी कविता संग्रह नियमानुसार  आपला सहभाग निश्चित करावा. कविता संग्रहाचे नाव  *काव्यस्पंदनी माझी कविता*  या संग्रहाचे प्रकाशन मे अखेरीस होणाऱ्या *काव्यस्पंदन एकदिवसीय साहित्य संमेलनात* करण्यात येणार आहे.  वेळ कमी असल्याने  आपला सहभाग लवकरात लवकर निश्चित करावा. नियमावली:- कविता 20 ते 30ओळीत असावी. प्रत्येक सदस्याने मराठी भाषेतील तीन कविता पाठवाव्यात. त्यातील दोन कविता या संग्रहात  प्रकाशित  करण्यात येतील. कविता ज्या काव्यप्रकारात आहे त्याचा उल्लेख करावा. कविता 30/4/2019 पर्यंत पाठवावी. संयोजकाचा निर्णय अंतिम राहील. राज्यव्यापी उपक्रमातील हा एक भाग असल्याने प्रत्येक कवी /कवयित्रीने  आपला सहभाग नोंदवावा. सहभागी कवींना पुस्तकाच्या पाच प्रती, प्रमाणपत्र व स्मृतीचिन्ह राज्यस्तरीय कविसंमेलन आयोजित करून सन्मान पूर्वक प्रदान करण्यात...
Read More

योग-साधना LifeSkills/जीवन कौशल – 99 – Shri Jagat Singh Bisht

Shri Jagat Singh Bisht (Master Teacher: Happiness & Well-Being, Laughter Yoga Master Trainer, Author, Blogger, Educator and Speaker.)   In only one session, get the clarity, confidence and skills to reduce stress. Learn how to make a valuable difference and improve the happiness quotient of your everyday. LifeSkills Seminars, Workshops & Retreats on Happiness, Laughter Yoga & Positive Psychology. Speak to us on +91 73899 38255 lifeskills.happiness@gmail.com Courtesy – Shri Jagat Singh Bisht, LifeSkills, Indore ...
Read More

सूचना / Information – प्रख्यात साहित्यकार सुश्री नीलम सक्सेना चंद्रा पुरस्कृत

प्रख्यात साहित्यकार सुश्री नीलम सक्सेना चंद्रा पुरस्कृत नीलम सक्सेना चन्द्र जी को 1 मार्च 2019 को महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी द्वारा सोहनलाल द्विवेदी सम्मान से नवाजा गया। यह उनकी किशोर/किशोरियों की कहानी की पुस्तक “दहलीज़” हेतु मिला। यह सम्मान माननीय विनोद तावड़े जी, केबिनेट मंत्री महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रदान किया गया। दहलीज़ जब एक बच्चा अपने बचपन को पीछे छोड़ देता है और एक किशोर जीवन की ओर प्रवेश करता है, तो वह उस दहलीज पर खड़ा होता है जहां एक ओर ऐसे सपने होते हैं जो सितारों की तरह चमकते हैं और दूसरी ओर मन में संदेह होते हैं, भविष्य अंधकारमय लगता है और रास्ते कठिन लगते हैं। ऐसे समय के दौरान  किसी को एक ऐसे मार्गदर्शक की आवश्यकता होती है जो सही दिशा-निर्देश दे सके और उचित मार्ग दिखाए जो गंतव्य की ओर जाता है। पुराने दिनों के दौरान, गाइड की भूमिका परिवार में दादा-दादी या बड़ों द्वारा पूरी की जाटी थी। आज के युग में, कहानी युवाओं को संतुष्ट...
Read More