image_print

सूचनाएँ/Information – ☆ पाथेय साहित्य कला अकादमी- डॉ. स्वाति तिवारी को पंचम गायत्री कथा सम्मान ☆

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆ ☆ पाथेय साहित्य कला अकादमी- डॉ. स्वाति तिवारी को पंचम गायत्री कथा सम्मान ☆   प्रख्यात कथा लेखिका डॉ. स्वाति तिवारी को पंचम गायत्री कथा सम्मान दिया जाएगा। डॉ स्वाति तिवारी को 2019 का गायत्री कथा सम्मान – (पत्रकार वार्ता) पाथेय साहित्य कला अकादमी जबलपुर द्वारा अपनी संस्थापक कथाकार एवं कवयित्री स्मृतिशेष डॉ. गायत्री तिवारी के पंचम जन्म स्मृति समारोह  शुक्रवार, 27 दिसम्बर 2019 को अपरान्ह 3.00 बजे से रानी दुर्गावती संग्रहालय सभागार में आयोजित होगा। इस वर्ष समारोह में पंचम गायत्री कथा सम्मान से देश की चर्चित कथा लेखिका डॉ. स्वाति तिवारी, भोपाल समादरित होंगी । सम्मानित कथालेखिका को शाल, माला, श्रीफल के साथ रुपये 11,000/- सम्मान निधि के रूप में भेंट किये जायेंगे। गायत्री सृजन सम्मान से सम्मानित होंगे डॉ. अरुणा पाण्डेय, सिहोरा, श्रीमती गीता शरद तिवारी, श्रीमती कांति रावत मिश्र, श्रीमती कृष्णा नायडू, श्रीमती मीना भट्ट, डॉ. अम्बर प्रियदर्शी, श्रीमती रत्ना ओझा, श्रीमती राज कुमारी नायक, सुश्री मनीषा गौतम, श्रीमती शशि कला सेन, श्रीमती इंदिरा पाठक तिवारी, श्रीमती संगीता उपाध्याय,...
Read More

सूचनाएँ/Information ☆ हिंदी : घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा ☆ – प्रस्तुति – श्री संजय भारद्वाज

सूचनाएँ/Information ☆ हिंदी : घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा ☆ (हिंदी आंदोलन परिवार के रजतजयंती समारोह के अंतर्गत सम्पन्न हुआ आयोजन) हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई और महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी पुणे में आयोजित की गई थी। इसका विषय था, *हिंदी : घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा*। संगोष्ठी का उद्घाटन सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय में हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ. सदानंद भोसले ने किया। डॉ. भोसले ने कहा कि गाँव की मंडी से लेकर संसद तक की भाषा हिंदी है तो हिंदी राष्ट्रभाषा क्यों नहीं हो सकती? हिंदी चारों भाषाकुलों के बीच सेतु का काम करती है। आज़ादी की लड़ाई में भी हिंदी ही सेतु बनी। उन्होंने लिपि के प्रचार और अधुनातन तकनीक को अपनाने पर बल दिया। हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे के अध्यक्ष श्री संजय भारद्वाज ने कहा कि राष्ट्रगान और राष्ट्रध्वज की तरह राष्ट्रभाषा भी एक ही हो सकती है।अपनी भाषा में शिक्षा न होने के कारण प्रतिभाओं के दमन और शोध के क्षेत्र में मौलिकता...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ हिंदी सृजन सभा, अहमदनगर ☆ – प्रस्तुति – डॉ ऋचा शर्मा

 ☆ सूचनाएँ/Information  ☆  ☆ हिंदी सृजन सभा, अहमदनगर  ☆ (14 दिसंबर 2019 को शाम5।30 बजे) हिंदी सृजन सभा की मासिक बैठकडॉ मिथिलेश अवस्थी ( नागपुर) की प्रमुख उपस्थिति में डॉ ऋचा  शर्मा  के निवास पर संपन्न हुई। इस अवसर पर डॉ अवस्थी  ने लघुकथा विधा पर सविस्तार चर्चा की और 'कहां हैं नदी माई 'शीर्षक अपने  लघुकथा  संग्रह  की लघुकथाओं पर प्रकाश डाला । इस अवसर पर प्राचार्य काले , डॉ जैन , डॉ ऋचाशर्मा ,राजीव शर्मा, प्रा.सोमनाथ नजन उपस्थित थे।...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ १९ वे साहित्यिक कलावंत संमेलन (मराठी ) २८/२९ डिसेंबरला ☆ – प्रस्तुति – कविराज विजय यशवंत सातपुते

सूचनाएँ/Information ☆ 19 वे साहित्यिक कलावंत संमेलन 28/29 डिसेम्बरला ☆   *पुणे शहरात दि.२८ व २९ डिसेंबर १९ रोजी १९ वे साहित्यिक कलावंत संमेलनाचे आयोजन करण्यात आले आहे.* *कोथरुड येथिल यशवंतराव चव्हाण नाट्यगृहात आयोजित केलेल्या या संमेलनाचे उद्घाटन २८ तारखेला सकाळी १०-३० वा महाराष्ट्र राज्याचे विद्यमान अर्थ मंत्री जयंत पाटील यांचे शुभहस्ते होणार आहे.संम्मेलनाध्यक्ष पद संत साहित्याचे गाढे अभ्यासक श्री रामचंद्र देखणे भुषविणार आहेत. प्रमुख अतिथि म्हणून पुणे शहराचे महापौर श्री मुरलीधर मोहोळ उपस्थित राहणार आहेत.* *दि. 28/12/2019 रोजी रात्री   8 ते 10 या वेळेत  मा. अशोक बागवे यांच्या अध्यक्षतेखालीआयोजित केलेल्या कवीसंमेलनात निमंत्रित कवी म्हणून मान्यवर कवींसोबत  मलाही आमंत्रित केले आहे. मा.शशिकांत हिंगोणेकर, मा.   मिरा शिंदे ,  मा. विजय सातपुते, मा. जगदीश कदम, मा. धनंजय सोलंकर , मा.  प्रा. पांडुरंग कंद, मा. कविता क्षीरसागर , मा. म.  भा. चव्हाण, मा. संजय बोरुडे, मा. पुरूषोत्तम सदाफुले, मा. धनंजय तडवळकर, मा. मोहन शिरसाठ,मा. लिनता माडगूळकर, मा. अंकुश आरेकर, मा. अलका जोशी* आदी मान्यवर कवीसंमेलनात कवीता सादरीकरण होत आहे.  आपण सर्वांनी  अवश्य  उपस्थित रहावे ,  व या अनोख्या ...
Read More

सूचना /Information – ☆ हिंदी आंदोलन परिवार – रजतजयंती समारोह, पुणे ☆

☆ सूचना/Information ☆  ☆ हिंदी आंदोलन परिवार – रजतजयंती समारोह के अंतर्गत *निमंत्रण* आप सादर आमंत्रित हैं। *हिंदी आंदोलन परिवार के रजतजयंती समारोह के अंतर्गत* *हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई और महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी* *हिंदी : घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा* शनि  दि. 14 दिसम्बर 2019 समय- प्रात: 10 बजे स्थान- लकाकी सभागृह, मराठा चेंबर ऑफ कॉमर्स, स्वारगेट कॉर्नर, पुणे *पंजीकरण एवं जलपान* प्रातः 9:30 से 10:00 *उद्घाटन सत्र*  प्रातः 10:00 बजे *उद्घाटनकर्ता- डॉ. सदानंद भोसले* (हिंदी विभागाध्यक्ष, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *अध्यक्ष*- *डॉ. सुशीला गुप्ता* (उपाध्यक्ष, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई) *वक्तव्य*-  *श्री ज. गं. फगरे*   (संचालक, महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे) *श्री संजय भारद्वाज* (अध्यक्ष, हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे) *संचालन- सौ.स्वरांगी साने* *प्रथम सत्र* 11.45  से 1.45 बजे तक *अध्यक्ष- डॉ. करुणाशंकर उपाध्याय* (हिंदी विभागाध्यक्ष, मुंबई विश्वविद्यालय) *विशेष अतिथि- डॉ. दामोदर खडसे* (प्रसिद्ध साहित्यकार) *वक्तव्य-* *डॉ. नीला बोर्वणकर*  ( पूर्व विभागाध्यक्ष, हिंदी विभाग, आबासाहेब गरवारे महाविद्यालय) *डॉ. शशिकला राय*  (एसोसिएट प्रोफेसर, हिंदी विभाग, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव* सहायक महाप्रबंधक (हिंदी), बैंक ऑफ महाराष्ट्र *श्री महेश अग्रवाल* ( ट्रस्टी एवं संरक्षक, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई) *संचालन- डॉ. अनंत श्रीमाली* *भोजनावकाश*  अपराह्न 1.45 से 2.30 बजे *द्वितीय सत्र*  अपराह्न 2.30 से 3.30...
Read More

हिन्दी साहित्य- साहित्यिक कार्यक्रम – ☆ क्षितिज अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019, इंदौर ☆ – श्री दीपक गिरकर

श्री दीपक गिरकर  ☆ क्षितिज अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019, इंदौर☆ ☆ कोई भी कला संयम और समय के साथ ही विकसित होती है - सुकेश साहनी☆ ‘क्षितिज’ संस्था, इंदौर द्वारा द्वितीय ‘अखिल भारतीय लघुकथा सम्मेलन 2019’ का आयोजन दिनांक 24 नवम्बर 2019, रविवार को श्री मध्यभारत हिंदी साहित्य समिति, इन्दौर में किया गया। यह कार्यक्रम चार विभिन्न सत्रों में आयोजित हुआ। प्रथम उद्घाटन , लोकार्पण एवम सम्मान सत्र रहा। इस सत्र की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार, कला मर्मज्ञ श्री नर्मदा प्रसाद उपाध्याय ने की। मंच पर क्षितिज साहित्य संस्था के अध्यक्ष श्री सतीश राठी, श्री सूर्यकांत नागर, श्री सुकेश साहनी, श्री श्याम सुंदर अग्रवाल, श्री माधव नागदा एवम श्री कुणाल शर्मा उपस्थित थे। संस्था परिचय एवं अतिथियों के लिए स्वागत भाषण श्री सतीश राठी ने दिया। लघुकथा विधा को लेकर वर्ष 1983 से संस्था द्वारा किए गए कार्यों की उन्होंने जानकारी दी एवं संस्था के विभिन्न प्रकाशनों पर जानकारी देते हुए लघुकथा विधा के पिछले 35 वर्ष के इतिहास पर एक दृष्टि डाली। उन्होंने...
Read More

सूचनाएं /Information – ☆ हिंदी आंदोलन परिवार – रजतजयंती समारोह, पुणे ☆

 ☆ सूचनाएं /Information ☆  ☆ हिंदी आंदोलन परिवार - रजतजयंती समारोह के अंतर्गत *हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई और महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी* *हिंदी: घोषित राजभाषा, उपेक्षित राष्ट्रभाषा* शनि  दि. 14 दिसम्बर 2019 समय- प्रात: 10 बजे स्थान- लकाकी सभागृह, मराठा चेंबर ऑफ कॉमर्स, स्वारगेट कॉर्नर, पुणे   *पंजीकरण एवं जलपान* -  प्रातः 9:30 से 10:00 *उद्घाटन सत्र* -  प्रातः 10:00 बजे *उद्घाटनकर्ता- डॉ. सदानंद भोसले* (हिंदी विभागाध्यक्ष, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *अध्यक्ष*- *डॉ. सुशीला गुप्ता* (उपाध्यक्ष, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई)   *वक्तव्य*-  *श्री ज. गं. फगरे*   (संचालक, महाराष्ट्र राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, पुणे) *श्री संजय भारद्वाज* (अध्यक्ष, हिंदी आंदोलन परिवार, पुणे)   *संचालन- सौ.स्वरांगी साने* *प्रथम सत्र* 11.45 से 1.45 बजे तक   *अध्यक्ष- डॉ. करुणाशंकर उपाध्याय* (हिंदी विभागाध्यक्ष, मुंबई विश्वविद्यालय) *विशेष अतिथि- डॉ. दामोदर खडसे* (प्रसिद्ध साहित्यकार)   *वक्तव्य-* *डॉ. नीला बोर्वणकर*  ( पूर्व विभागाध्यक्ष, हिंदी विभाग, आबासाहेब गरवारे महाविद्यालय) *डॉ. शशिकला राय* (एसोसिएट प्रोफेसर, हिंदी विभाग, सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय) *डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव* सहायक महाप्रबंधक (हिंदी), बैंक ऑफ महाराष्ट्र *श्री महेश अग्रवाल* (ट्रस्टी एवं संरक्षक, राष्ट्रभाषा महासंघ, मुंबई)   *संचालन- डॉ. अनंत श्रीमाली*   *भोजनावकाश* -  अपराह्न 1.45 से 2.30 बजे *द्वितीय...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ सोन इंदर प्रतिष्ठान सम्मान ☆ – प्रस्तुति – श्रीमती समीक्षा तैलंग

सूचनाएँ/Information श्रीमती समीक्षा तैलंग    (हम प्रतिष्ठित व्यंग्यकार  श्रीमती समीक्षा तैलंग जी के ह्रदय से आभारी हैं जिन्होंने हमारे आग्रह  को स्वीकार कर  सोन इन्दर प्रतिष्ठान सम्मान कार्यक्रम  की विशेष जानकारी प्रेषित की है। )  ☆ सोन इंदर प्रतिष्ठान सम्मान ☆ 16 नवंबर को एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जाना हुआ। सावित्रीबाई फुले, पुणे विश्वविद्यालय में हुए इस कार्यक्रम में आ. बलराम प्रेमनारायण जी को सोनइंदर प्रतिष्ठान की ओर से साहित्य महासागर सम्मान से सम्मानित किया गया। बलराम जी का सत्कार करते हुए बाएं से खडसे जी, पवार जी, बलराम जी, ममता जैन जी, डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव जी, डॉ. सुनील देवधर जी आ. दामोदर खड़से जी से बातचीत, उन्हें सुनना और उन्हें अपनी पुस्तक भेंट करना भी सुखद रहा। आ. सुनील देवधर जिन्हें मैं दादा कहती हूं, उनसे लगभग 24 वर्षों बाद मिलना उतनी ही आत्मीयता और सुकून भरा था। कार्यक्रम संयोजन में श्री अशोक भांबुरे जी का विशेष योगदान रहा।  मेरे एक और फेसबुक मित्र जिनसे मैं पहली बार मिली डॉ. राजेन्द्र श्रीवास्तव जी उनका संचालन लाजवाब...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ 16 वां बहुभाषी नाट्य महोत्सव – निर्णायक की कलम से – – ☆ श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी” 

श्रीमति हेमलता मिश्र “मानवी “ (सुप्रसिद्ध, ओजस्वी,वरिष्ठ साहित्यकार श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी”  जी  विगत ३७ वर्षों से साहित्य सेवायेँ प्रदान कर रहीं हैं एवं मंच संचालन, काव्य/नाट्य लेखन तथा आकाशवाणी  एवं दूरदर्शन में  सक्रिय हैं। आपकी रचनाएँ राष्ट्रीय स्तर पर पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित, कविता कहानी संग्रह निबंध संग्रह नाटक संग्रह प्रकाशित, तीन पुस्तकों का हिंदी में अनुवाद, दो पुस्तकों और एक ग्रंथ का संशोधन कार्य चल रहा है।  आज प्रस्तुत है 16 वें बहुभाषी नाट्य महोत्सव में निर्णायक के रूप श्रीमती  हेमलता मिश्रा जी के उदगार.)   ☆ निर्णायक की कलम से -श्रीमती हेमलता मिश्रा “मानवी”  ☆   विदर्भ हिन्दी साहित्य सम्मेलन ,मोरभवन झांसीरानी चौक नागपुर और कला सागर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 16 वें बहुभाषी नाट्य महोत्सव में निर्णायक के रूप में पिछले छः दिनों के स्वर्गिक आनंद का अनुपम आस्वाद - - अवर्णनीय है पूरे पंद्रह नाटक 200 से अधिक कलाकार और प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े सुधि जनों के साथ बड़े ही जोश उत्साह और जिज्ञासा से पूरित  नाट्य महोत्सव का भव्य समापन समारोह...
Read More

सूचनाएँ/Information – ☆ श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय ‘प्रकाश’ जी को क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान ☆

सूचनाएँ/Information श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश” ☆ श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी को क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान ☆   सुप्रसिद्ध बालसाहित्यकार - श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी को साहित्य सृजन, हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं बालसहित्य उन्नयन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए त्रिदिवसीय क्रान्तिधरा मेरठ साहित्यिक महाकुम्भ 2019, मेरठ में अंतरराष्ट्रीय हास्य कवि एवं शायर डॉ एजाज पॉपुलर मेरठी, श्री सरण घई (कनाडा), श्री कपिल कुमार (बेल्जियम ), श्री रामदेव धुरंधर (मारीशस), श्रीमती जया वर्मा (ब्रिटेन), डॉ रमा शर्मा (जापान), डॉक्टर श्वेता दीप्ति (नेपाल), डॉ सच्चिदानंद मिश्र (नेपाल) आदि देश-विदेश के मंचस्थ अतिथि साहित्यकारों के द्वारा #क्रांतिधरा_अंतरराष्ट्रीय_साहित्य_साधक_सम्मान प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर देश विदेश से पधारे हुए 200 से अधिक शब्द शिल्पियों की उपस्थिति में यह गरिमामय सम्मान प्रदान किया गया। उल्लेखनीय है कि श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी का साहित्य सृजन, हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं बालसहित्य उन्नयन के क्षेत्र में  विशिष्ट योगदान है एवं आपकी बालकहानियाँ देश की प्रसिद्ध बाल पत्रिकाओं जैसे- नंदन, चम्पक, देवपुत्र, बाल किलकारी, हँसती...
Read More
image_print