image_print

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 9 ☆ बाल साहित्य – भोलू भालू सुधर गया ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “बाल साहित्य - भोलू भालू सुधर गया”।    ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 9 ☆  ☆ पुस्तक – भोलू भालू सुधर गया ☆ पुस्तक चर्चा ☆ बाल साहित्य   – भोलू भालू सुधर गया– चर्चाकार…विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆   पुस्तक - भोलू भालू सुधर गया लेखक - पवन चौहान प्रकाशक - बोधि प्रकाशन, जयपुर मूल्य - १०० रु   बाल साहित्य रचने के लिये बाल मनोविज्ञान का जानकार होना अनिवार्य होता है. दुरूह से दुरूह बात भी खेल खेल में, चित्रात्मकता के साथ सरल शब्दो में बताई जावे तो बच्चे उसे सहज ही ग्रहण कर लेते हैं. बचपन में पढ़ा गया साहित्य जीवन भर स्मरण...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 8 ☆ उपन्यास  – एकता और शक्ति  ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “उपन्यास  - एकता और शक्ति  (सरदार पटेल के जीवन पर आधारित उपन्यास)”।    ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 8 ☆  ☆ पुस्तक – उपन्यास  - एकता और शक्ति  (सरदार पटेल के जीवन पर आधारित उपन्यास) ☆   पुस्तक चर्चा पुस्तक – उपन्यास  - एकता और शक्ति  (सरदार पटेल के जीवन पर आधारित उपन्यास) लेखक –  अमरेन्द्र नारायण प्रकाशक –   राधाकृष्ण प्रकाशन ,राजकरल प्रकाशन समूह , 7/31 अंसारी रोड दरयागंज, नई दिल्ली www.radhakrishnaprakashan.com, E-mail: info@radhakrishnaprakashan.com   ☆ पुस्तक  – उपन्यास  - एकता और शक्ति – चर्चाकार…विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆ ☆ उपन्यास  - एकता और शक्ति  (सरदार पटेल के जीवन पर आधारित उपन्यास)☆   एकता और शक्ति उपन्यास स्वतंत्र भारत...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 7 ☆ हास्य व्यंग्य – बातें बेमतलब  ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

 विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “हास्य व्यंग्य - बातें बेमतलब ”।    ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 6 ☆    ☆ पुस्तक – हास्य व्यंग्य - बातें बेमतलब ☆   पुस्तक चर्चा पुस्तक –बातें बेमतलब लेखक –  अनुज खरे प्रकाशक – मंजुल पब्लिशिंग हाउस भोपाल मूल्य –  175 रु   ☆ पुस्तक  – हास्य व्यंग्य - बातें बेमतलब  – चर्चाकार…विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆   ☆ हास्य व्यंग्य - बातें बेमतलब ☆   आपाधापी भरा वर्तमान समय दुष्कर हो चला है. ऐसे समय में साहित्य का  वह हिस्सा जन सामान्य को बेहतर तरीके से प्रभावित कर पा रहा है जिसमें आम आदमी की दुश्वारियो की पैरवी हो, किंचित हास्य हो, विसंगतियो पर मृदु...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 6 ☆ आसमान से आया फरिश्ता ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

 विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “आसमान से आया फरिश्ता”।  महाराष्ट्र राज्य का हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार  से पुरस्कृत इस पुस्तक की चर्चा , मात्र पुस्तक चर्चा ही नहीं अपितु हमारे समाज को एक सकारात्मक शिक्षा भी देती है और हमें धर्म , जाति और सम्प्रदाय से ऊपर उठ कर विचार करने हेतु विवश करती है. कालजयी गीतों के महान गायक मोहम्मद रफ़ी जी , संगीतकार नौशाद जी  एवं  गीतकार शकील बदायूंनी जी  को नमन और सार्थक पुस्तक चर्चा के लिए श्री विवेक रंजन जी को हार्दिक बधाई.)   ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 6 ☆    ☆ पुस्तक...
Read More

हिन्दी साहित्य – पुस्तक समीक्षा / आत्मकथ्य – ☆ देश के प्रधान सेवक मोदी जी की गौरवमयी गाथा ☆ सुश्री निशा नंदिनी भारतीय

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के जन्मदिवस पर विशेष सुश्री निशा नंदिनी भारतीय    (यह एक संयोग है  कि आज प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का जन्मदिन है और आज के ही दिन 17 सितम्बर 2019  को दिल्ली एवं रांची में सुदूर उत्तर -पूर्व  भारत की प्रख्यात  लेखिका/कवियित्री सुश्री निशा नंदिनी जी  की नवीन पुस्तक  "देश के प्रधान सेवक मोदी जी की गौरवमयी गाथा "का लोकार्पण होगा. सुश्री निशा नंदिनी जी को इस प्रकाशन के लिए ई-अभिव्यक्ति की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं.  प्रस्तुत  है पुस्तक का आत्मकथ्य.)   ☆ पुस्तक – देश के प्रधान सेवक मोदी जी की गौरवमयी गाथा  ☆  आमुख -   "देश के प्रधान सेवक मोदी जी की गौरवमयी गाथा" इस पुस्तक को लिखने की प्रेरणा मुझे मेरे अंतर मन से मिली है। मैं स्वामी विवेकानंद के विचारों से बहुत अधिक प्रभावित हूँ। उनके बताए रास्ते पर चलकर जीवन को सार्थक करना चाहती हूँ। मुझे नरेंद्र मोदी और स्वामी जी के विचारों में काफी समानता दिखाई देती है। अगर मैं यह कहूँ तो...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 5 ☆ काव्य – बुंदेली गीता ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

 विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “काव्य – बुंदेली गीता ”।)   ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 4☆     ☆ काव्य – बुंदेली गीता  ☆   पुस्तक चर्चा काव्य - बुंदेली गीता  लेखक -  विनोद कुमार खरे मूल्य -  251 रु   ☆ काव्य  – बुंदेली गीता– चर्चाकार…विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆   ☆ बुंदेली गीता ☆ भगवत गीता के संस्कृत श्लोक, हिंदी भाषा अनुवाद सहित बुंदेली काव्य    भगवत गीता विश्व ग्रंथ है ।अनेक भाषाओं में अनेक लोगों ने इसका अनुवाद किया है।  प्रोफेसर चित्र भूषण श्रीवास्तव ने हिंदी काव्य अनुवाद, अंग्रेजी अर्थ सहित किया है जो संस्कृत न समझने वाले युवाओं में बहुत लोकप्रिय हो रहा है । इसी क्रम में...
Read More

हिन्दी साहित्य – पुस्तक समीक्षा / आत्मकथ्य – ☆ जीवन की कुंजी – श्रीमद् भगवत गीता ☆ सुश्री निशा नंदिनी भारतीय

सुश्री निशा नंदिनी भारतीय    (सुदूर उत्तर -पूर्व  भारत की प्रख्यात  लेखिका/कवियित्री सुश्री निशा नंदिनी जी  की नवीन पुस्तक  जीवन की कुंजी - श्रीमद् भगवत गीता  के प्रकाशन के लिए ई-अभिव्यक्ति की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं.  प्रस्तुत  है पुस्तक का आत्मकथ्य.)     ☆ पुस्तक - जीवन की कुंजी - श्रीमद् भगवत गीता  ☆    आमुख  गीता भारतीय संस्कृति की आधारशिला है । हिन्दू शास्त्रों में गीता का सर्वप्रथम स्थान है । गीता में 18 पर्व और 700 श्लोक है । इसके रचयिता वेदव्यास हैं । गीता महाभारत के भीष्म पर्व का ही एक अंग है । लोकप्रियता में इससे बढ़कर कोई दूसरा ग्रन्ध नहीं है और इसकी लोकप्रियता दिनों-दिन बढ़ती जा रही है । गीता में अत्यन्त प्रभावशाली ढंग से धार्मिक सहिष्णुता की भावना को प्रस्तुत किया गया है। जो भारतीय संस्कृति की एक विशेषता है । धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र में कौरवों और पांडवों के मध्य युद्ध में अर्जुन अपने स्वजनों को देखकर युद्ध से विमुख होने लगा । धर्मयुद्ध के अवसर पर शोकमग्न अर्जुन को गीता का उपदेश देते हुए...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 3 ☆ काव्य संग्रह – कंटीले कैक्टस में फूल ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

 विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “काव्य संग्रह - कंटीले कैक्टस में फूल”।) ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 3☆     ☆ काव्य संग्रह - कंटीले कैक्टस में फूल ☆   पुस्तक चर्चा काव्य संग्रह .. कंटीले कैक्टस में फूल  लेखक.. आनन्द बाला शर्मा पृष्ठ ६०, मूल्य २५० रु संस्करण.. हार्ड बाउन्ड मूल्य आई एस बी एन..९७८ ८१ ९३४८२६ ९ ८ प्रकाशक.. विनीता पब्लिशिंग हाउस, ग्रेटर नोयडा   ☆ काव्य संग्रह - कंटीले कैक्टस में फूल  – चर्चाकार…विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆   आनंद बाला शर्मा, कविता, गीत, संस्मरण, लेखो में अपने मनोभाव व्यक्त करती हैं. आकाशवाणी से उनके प्रसारण होते रहे हैं. इन दिनो वे जमशेदपुर में रहकर अपने रचना कर्म द्वारा समाज को दिशा...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 2 ☆ बाल साहित्य – रोचक विज्ञान बाल कहानियां ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “रोचक विज्ञान बाल कहानियां”।) यह एक संयोग ही है क़ि पुस्तक के लेखक श्री ओम प्रकाश क्षत्रिय "प्रकाश" जी को 2 सितम्बर 2019 को ही शब्द निष्ठा सम्मान से सम्मानित किया गया. (शब्द निष्ठा सम्मान समारोह 2019 अजमेर में 2 सितम्बर 2019 को  बालसाहित्यकार श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी को सम्मानित करते हुए बाएँ से डॉ अजय अनुरागीजी, विमला भंडारीजी, आशा शर्माजी, (स्वयं) ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश',अनुविभगीय अधिकारी साहित्यकार सूरजसिंह नेगी जी संयोजक डॉ अखिलेश पालरिया जी। ई-अभिव्यक्ति की ओर से   श्री ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' जी  को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं.)   ☆ साप्ताहिक स्तम्भ –...
Read More

हिन्दी साहित्य – ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 1 ☆ व्यंग्य संग्रह – अगले जनम मोहे कुत्ता कीजो ☆ – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’

श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’    (हम प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’ जी के आभारी हैं जिन्होने  साप्ताहिक स्तम्भ – “विवेक की पुस्तक चर्चा”  शीर्षक से यह स्तम्भ लिखने का आग्रह स्वीकारा। इस स्तम्भ के अंतर्गत हम उनके द्वारा की गई पुस्तक समीक्षाएं/पुस्तक चर्चा आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।  अब आप प्रत्येक मंगलवार को श्री विवेक जी के द्वारा लिखी गई पुस्तक समीक्षाएं पढ़ सकेंगे। आज प्रस्तुत है श्री विवेक जी  की पुस्तक चर्चा  “अगले जनम मोहे कुत्ता कीजो”।)   ☆ साप्ताहिक स्तम्भ – विवेक की पुस्तक चर्चा – # 1 ☆     ☆ व्यंग्य संग्रह - अगले जनम मोहे कुत्ता कीजो ☆ पुस्तक चर्चा व्यंग्य संग्रह... अगले जनम मोहे कुत्ता कीजो लेखक..सुदर्शन सोनी, चार इमली, भोपाल प्रकाशक...बोधि प्रकाशन जयपुर पृष्ठ..१३६, मूल्य १५० रु   ☆ व्यंग्य संग्रह... अगले जनम मोहे कुत्ता कीजो - चर्चाकार...विवेक रंजन श्रीवास्तव ☆   कुत्ते की वफादारी और कटखनापन जब अमिधा से हटकर, व्यंजना और लक्षणा शक्ति के साथ इंसानो पर अधिरोपित किया जाता है तो व्यंग्य उत्पन्न होता है. मुझे स्मरण है कि इसी तरह का एक प्रयोग जबलपुर के विजय...
Read More
image_print